मन और शरीर दोनों के लिए स्वास्थय का रहस्य है- अतीत पर शोक मत करो, ना ही भविष्य की चिंता करो, बल्कि बुद्धिमानी और ईमानदारी से वर्तमान में जियो.

0
21
गौतम बुद्ध कोट्स 22
गौतम बुद्ध कोट्स 22

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here